Sutputra Karan (PB)

40

ISBN: 978-81-7309-3
Pages:
Edition:
Language:
Year:
Binding:

Availability: 788 in stock Category:
View cart

Description

गुजराती के लब्ध-प्रतिष्ठित साहित्यकार श्री नानाभाई भट्ट से हिंदी के पाठक भलीभांति परिचित है। उनकी अनेक पुस्तकों का हिंदी में अनुवाद हुआ है। पाठकों ने उनकी बड़ी सराहना की है। उनकी ‘रामायण के पात्र’ तथा ‘महाभारत के पात्र’ मालाएं तो बहुत ही लोकप्रिय हुई हैं। लेखक की भाषा बड़ी सरल और सुंदर है। चरित्रों का वर्णन उन्होंने इतने प्रभावशाली ढंग से किया है कि वे पात्र सजीव रूप में पाठकों के सामने आ खड़े होते हैं। इस पुस्तक में उन्होंने कर्ण के जीवन पर प्रकाश डाला है, जो अत्यंत पे्ररणादायक है।

Additional information

Weight 45 g
Dimensions 12 × 17.5 × 0.50 cm

1 review for Sutputra Karan (PB)

  1. 5 out of 5

    J K JOSHI

    अति‌उत्तम एवं ज्ञानवर्धक जानकारी दी गई है।
    मैंने अभी तक धर्म राज युधिष्ठिर, दुर्योधन, कुन्ती गांधारी एवं आचार्य द्रोण जी की पुस्तक को पढ़ा।
    आपके लेख अत्यंत प्रभावशाली है। आपको आभार सहित नमन


Add a review