Saat Kale Kauwe

$1,00

Author: DAGMAAR MAARKIVA
ISBN: 81-7309-048-4
Pages: 94
Language: HINDI
Year: 2018

View cart

Description

सात काले कौवे

चैकोस्लोवाकिया

मूल्य: 20.00 रुपए

‘सस्ता साहित्य मण्डल’ से हमने हिंदी तथा उसके परिवार की अन्य भाषाओं की चुनी हुई लोक-कथाओं की लगभग एक दर्जन पुस्तकें प्रकाशित की हैं। इन पुस्तकों की पाठकों ने भूरि-भूरि प्रशंसा की है। उनकी लोकप्रियता का अनुमान इस बात से किया जा सकता है कि उस माला की प्रायः सभी पुस्तकों के एकाधिक संस्करण हो गए हैं। इन कहानियों की लेखिका प्राग में रहनेवाली एक चेक बहन है, जो हिंदी की विदुषी हैं। हम उनके आभारी हैं कि उन्होंने मूल हिंदी में बड़ी ही सरल तथा रोचक लोक-कथाएं चित्रों सहित उपलब्ध कराई हैं। भारतीय तथा अन्य देशों की लोक-कथाओं को पढ़कर पता चलता है कि भाषा और रहन-सहन भिन्न होते हुए भी सभी देशों की भावनाएं, रुचियां तथा मनोरंजन के साधन प्रायः एक समान हैं। मानवीय धरातल पर सभी देशवासी एक-दूसरे से जुड़े हैं।

Additional information

Weight 88 g
Dimensions 17,8 × 11,8 × 0,4 cm

Reviews

There are no reviews yet.


Be the first to review “Saat Kale Kauwe”