Tandrust Rahne Ke Upay

45

Author: DHARMCHAND SARAVGEE
ISBN: 81-7309-084-X
Pages: 60
Language: HINDI
Year: 2016

Availability: 100 in stock Category:
View cart

Description

तन्दुरुस्त रहने के उपाय

धर्मचंद सरावगी

मूल्य: 30.00 रुपए

दुनिया में हर आदमी तन्दुरुस्त रहना चाहता है, लेकिन हममें से अधिकांश लोग तन्दुरुस्ती के सामान्य नियमों को भी नहीं जानते। नतीजा यह कि हम अपने स्वास्थ्य को स्वयं बिगाड़ते हैं। शीर के रोगी हो जाने पर वैद्य-डाक्टरों के चक्कर में पड़ते हैं और इस तरह रहे-सहे स्वास्थ्य के साथ-साथ पैसे भी गंवाते हैं। इस पुस्तक माला द्वारा ऐसा साहित्य देने की योजना की गई है, जो लोगों को बताये कि वे स्वथ्स कैसे रह सकते हैं और यदि दुर्भाग्य से कोई रोग हो जाय तो प्राकृतिक चिकित्सा द्वारा किस प्रकार उससे छुटकारा पा सकते हैं। प्रस्तुत पुस्तक में बताया गया है कि तन्दुरुस्त रहने के लिए किन-किन बातों का ध्यान रखना आवश्यक है।

Additional information

Weight 58 g
Dimensions 17.9 × 11.8 × 0.3 cm

Reviews

There are no reviews yet.


Be the first to review “Tandrust Rahne Ke Upay”