Kahiye Samay Bichare (PB)

25

ISBN: 81-7309-121-8
Pages:
Edition:
Language:
Year:
Binding:

Availability: 329 in stock Category:
View cart

Description

प्रस्तुत पुस्तक में लेखक के छोटे-छोटे निबंध संग्रहीत किए गए हैं। ये सब निबंध बड़े सरल और सुबोध हैं। सामान्य शिक्षित पाठक भी इन्हें आसानी से समझ सकते हैं। इन निबंधों की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि ये ऐसे विषयों पर लिखे गए हैं कि, जिनका संबंध सबके साथ और सब समय आता है। ये रचनाएं पाठकों को सोचने के लिए पर्याप्त सामग्री प्रदान करती हैं। लेखक ने इन निबंधों में अपनी बात बहुत संक्षेप में कहकर अवसर पैदा कर दिया है कि पढ़ने वाले उस विषय पर गहराई से विचार करें।

Reviews

There are no reviews yet.


Be the first to review “Kahiye Samay Bichare (PB)”